इंदौर: बड़े अस्पताल में ऑक्सीजन बंद होने से 9 लोगों की मौत, कमिश्नर ने कहा- वजह कुछ और ही है!

इंदौर: बड़े अस्पताल में ऑक्सीजन बंद होने से 9 लोगों की मौत, कमिश्नर ने कहा- वजह कुछ और ही है!

इंदौर। प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल कहे जाने वाले महाराजा यशवन्तराव अस्पताल में लापरवाही के कारण 4 बच्चों सहित 9 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। गुरुवार रात 2 बजे से 4 बजे के बीच में कुछ देर के लिए अचानक ऑक्सीजन की सप्लाई रुक गई जिससे 9 मरीजों की मौत हो गई।

बताया जा रहा है कि अस्पताल प्रबंधन को इस घटना की जानकारी ही नहीं थी मरीजों को तड़पता देख अटेंडरों ने हल्ला मचाया तो प्रबंधन हरकत में आया। हालांकि अस्पताल प्रशासन ने मरीजों के शवों को जल्दी जल्दी परिजनों को सोंप कर मामले को रफादफा करने की भी कोशिश की। जब सुबह होते ही इस मामले की सूचना बडे प्रशासनिक अधिकारियों तक पहुंची तो सभी भागते-दौड़ते एमवाय अस्पताल पहुंच गये। बता दें कि पिछले साल भी अस्पताल की लापरवाही ने दो नवजात शिशुओं की जान ले ली थी।

वहीं 9 लोगों की मौत की वजह बनी ऑक्सीजन सप्लाई को कमिश्नर संजय दुबे ने पूरी तरह से नकार दिया है। उनका कहना है कि किसी की भी मौत ऑक्सीजन बंद होने की वजह से नहीं हुई है। जितने भी मरीजों की जान गई है उनमें बच्चे नहीं थे। कमिश्नर का कहना है कि अस्पताल में सुबह जिन लोगों की मौत हुई है, वे सभी अलग-अलग वार्ड में भर्ती थे। ऐसे में ऑक्सीजन बंद होने का सवाल ही नहीं उठता। लेकिन कमिश्नर संजय दुबे की इस दलील के बावजूद उनकी तरफ से इस घटना की असली वजह उन्हें भी अभी तक पता नहीं है। पुलिस इस घटना की छानबीन कर रही है।

ALWAR NEWS DESK

Shares
error: Content is protected !!