किसान कृषि के साथ पशुपालन व दुग्ध उत्पादन से आर्थिक स्थिति सुदृढ़ करें : श्रम मंत्री

किसान कृषि के साथ पशुपालन व दुग्ध उत्पादन से आर्थिक स्थिति सुदृढ़ करें : श्रम मंत्री

जयपुर/अलवर। श्रम एवं नियोजन मंत्री डॉ. जसवंत सिंह यादव ने किसानों से आह्वान किया कि कृषि के साथ पशुपालन अपनाकर दुग्ध उत्पादन के माध्यम से अपनी आर्थिक स्थिति सुदृढ़ करें। डॉ. जसवंत सिंह यादव रविवार को अलवर जिला दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ द्वारा रैणी में राष्ट्रीय दुग्ध दिवस पर आयोजित राष्ट्रीय डेयरी योजना के तहत आहार सन्तुलन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने किसानों से कहा कि कृषि एवं पशुपालन आधुनिक तकनीक का उपयोग कर अधिक उत्पादन प्राप्त करें। उन्होंने दुधारू पशुओं को सन्तुलित आहार देने की बात कही, जिससे उनकी दुग्ध उत्पादन क्षमता में सुधार होगा और दुग्ध उत्पादकों की शुद्ध आय में बढ़ोतरी होगी।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए अलवर सरस डेयरी के अध्यक्ष बन्ना राम मीणा ने बताया कि आज भामाशाह पशु बीमा क्लेम के अन्तर्गत 7 व्यक्तियों को 3 लाख 40 हजार रुपए की राशि के चेक वितरित किए तथा पांच हजार पशुओं का 25 करोड़ रुपए की राशि का बीमा कराया गया है। उन्होंने बताया कि राजगढ़ ओबीसी बैंक द्वारा 100 किसानों को प्रत्येक किसान एक लाख रुपए का ऋण दिया जा रहा है। कार्यक्रम में अलवर डेयरी के प्रबंधक शरद चौधरी सहित कृषक, पशुपालक एवं गणमान्य लोग उपस्थित थे।

अलवर ब्यूरो

अलवर ब्यूरो
Shares
error: Content is protected !!