15 गुरुजी पढ़ा रहे थे 50 विद्यार्थी, केवल 15 हुए पास

15 गुरुजी पढ़ा रहे थे 50 विद्यार्थी, केवल 15 हुए पास

नौगांवा। सरकारी स्कूलों में शिक्षकों और अन्य स्टॉफ सहित सुविधाओं पर लाखों रुपए प्रतिमाह खर्च करने के बाद कई स्कूलों का परीक्षा परिणाम बहुत निराशाजनक रहा है। रामगढ़ तहसील के एक गांव पाटा के राजकीय सीनियर माध्यमिक विद्यालय में 15 शिक्षकों का स्टाफ है, जहां मात्र 15 विद्यार्थी ही पास हुए है।

कम परीक्षा वाले पाटा स्कूल के कक्षा 10 के बोर्ड परिणाम में 52 विद्यार्थी में से परीक्षा में 49 छात्र ने परीक्षा दी थी इसमें से 15 छात्र ही परीक्षा में पास हो सकें। यहां गणित विषय में विद्यार्थियों में बहुत कम अंक आए है।

इनका भी परिणाम निराशाजनक रहा –
रामगढ़ उपखंड के 5 सरकारी विद्यालय है, जिनका परीक्षा परिणाम सबसे न्यून रहा। इनमें पाटा का 30.61%, रघुनाथ का 40 प्रतिशत, ककराली का 33.33 प्रतिशत, साहडोली का 36.36 प्रतिशत तथा रसगण स्कूल 37.93 प्रतिशत परिणाम है। दूसरी ओर रामगढ़ उपखंड में पिपरोली, मूनपुर, मिलकपुर एंव गूंदपुर के राजकीय विद्यालयों का परिणाम शत प्रतिशत रहा।

प्राचार्य ने कहा बच्चों को खूब मेहनत कराई गई, परंतु बच्चों के गणित विषय में नंबर कम आए है। 16 बच्चें पूरक है। इस साल परिणाम का पूरा ख्याल रखा जाएगा.

LALIT YADAV

अलवर ब्यूरो
Shares
error: Content is protected !!