पति की हत्या कर दो दिन कमरे में सोती रही पत्नी, पढ़िए रूंह कंपा देने वाली घटना

पति की हत्या कर दो दिन कमरे में सोती रही पत्नी, पढ़िए रूंह कंपा देने वाली घटना

भिवाड़ी। कस्बे के खिजूरीवास टोल प्लाजा के पास एक महिला ने अपने पति की हत्या कर लाश को दो दिन तक अपने बेडरूम में छुपाए रखा। जब लाश से बदबू आने लगी तो उसने लाश को जला दिया। लेकिन महिला ने अधजले शव को किसी पड़ोसी बच्चे की मदद से खेत में फेंक दिया। जब पड़ोसी बच्चे ने शव के बारे में घर पर बताया तो इस राज से पर्दा उठा। पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद आरोपित महिला को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि खिजूरीवास निवासी कुलदीप की शादी करीब छह साल पहले हरियाणा के बल्लभगढ़ निवासी निशा के साथ हुई थी और दोनों के एक लड़का है। कुलदीप व उसकी पत्नी निशा के रिश्ते सामान्य नहीं थे और दोनों के बीच अक्सर कुलदीप के शराब पीने को लेकर झगड़ा होता रहता था और वे दोनों एक-दूसरे पर फोन पर बात करने को लेकर शक करते थे। पिछले पंद्रह दिन से दोनों के बीच अनबन थी, जिससे झगड़ना बन्द हो गया था। गत 17 सितंबर की रात को कुलदीप अपने कमरे में सोया हुआ था और इस दौरान आपस मे झगड़ने के दौरान निशा ने कुलदीप की हत्या कर शव को बेड के अंदर छिपा दिया। कुलदीप के बारे में परिजनों के पूछने पर निशा ने बताया कि वह रात को कहीं चला गया तथा अभी तक वापस नहीं आया है। परिजनों ने कुलदीप की तलाश शुरू की तथा नहीं मिलने पर सोशल मीडिया पर भी कुलदीप के लापता होने की खबर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई तथा भिवाड़ी पुलिस गुमशुदगी का मामला दर्ज तलाश करने लगी।

Image may contain: 1 person, close-up

परिजनों को बताया चूहे के मरने से आ रही है दुर्गंध
कुलदीप के कमरे से बदबू आने पर परिजनों ने कारण पूछा तो निशा ने बताया कि कोई चूहा मर गया होगा। बदबू दूर करने के लिए कमरे में अगरबत्ती जला कर रखनी शुरू कर दी तथा स्वयं दूसरे कमरे में सोना शुरू कर दिया। 19 सितंबर को अचानक कुलदीप के कमरे में आग लग गई तथा अंदर रखा सारा सामान जल गया। परिजनों ने आग लगने का कारण पूछा तो निशा ने बताया कि उसने बदबू दूर करने के लिए उसने कमरे में अगरबत्ती चला कर रखी थी, उसी से आग लग गई। 19 सितंबर को निशा ने पूरे कमरे की सफाई भी की तथा जले हुए सामान को बाहर फेंक दिया।

बच्चे ने बताया खेत में फेंकी है लाश
निशा ने जला हुआ सामान बाहर फेंकने के लिए पड़ोस में ही रहने वाले तीन बच्चों पंकज, नवनीत व पुनीत से मदद मांगी। सामान की पोटली उठाते समय बच्चों ने उसमें अधजला शव देख लिया तथा निशा को बताया। परंतु निशा ने बच्चे को इस बारे में किसी को कुछ भी न बताने की धमकी देकर चुप कर दिया। इसके बाद पंकज सो नहीं सका तथा उसकी तबीयत भी खराब हो गई। शुक्रवार की रात को बच्चे ने अधजला शव होने तथा उसे खेत में फेंकने की जानकारी अपने परिजनों को दी। राज खुलने के बाद कुलदीप के परिजन रात को बच्चे द्वारा बताए गए खेत में पहुंचे तो वहां पर अधजला शव पड़ा हुआ था। सूचना के बाद भिवाड़ी डीएसपी हरिराम कुमावत व एसएचओ बालाराम मौके पर पहुंचे। पुलिस ने मौके पर एफएसएल टीम को बुलाया गया तथा शव व घटनास्थल का निरीक्षण कराया। अधजले शव की शिनाख्त कुलदीप के रूप में हुई है। पुलिस ने शमशेर यादव की शिकायत पर निशा के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।

दो दिन बेड में छुपा कर रखा शव
पुलिस अधीक्षक अमनदीप कपूर ने बताया कि 17 सितंबर की रात को कुलदीप शराब पीकर आया था तथा निशा के साथ झगड़ा कर रहा था। रात को झगड़ा बढ़ने पर निशा ने कुलदीप का सिर पकड़ कर बेड पर मार दिया था। खून ज्यादा बहने के कारण कुलदीप की मौत हो गई तथा निशा ने शव को गद्दे में लपेट कर बेड में रख दिया तथा 19 सितंबर को आग लगा दी थी। आरोपित पत्नी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

अलवर ब्यूरो

अलवर ब्यूरो
Shares