पानी के जहाज में चल रहा है अलवर का यह सरकारी स्कूल, तस्वीरें देखकर सब हैरान

पानी के जहाज में चल रहा है अलवर का यह सरकारी स्कूल, तस्वीरें देखकर सब हैरान

Cruise Shaped Government School Alwar: अलवर जिले के सरकारी स्कूलों की कायाकल्प जारी है। पिछले दिनों हमने ट्रेन वाले स्कूल के बारे में पढ़ा था, जिसमें सरकारी स्कूल को ऐसे पेंट किया गया था कि वह स्कूल एकदम ट्रेन लगे। अब ऐसा ही और उदाहारण अलवर जिले के हल्दीना के सरकारी स्कूल में देखने को मिला है, जहां पर स्कूल को पानी के जहाज के रूप में तैयार किया गया है। स्कूल का यह मॉडल सहगल फाउंडेशन की मदद से बनाया गया है।

कई महीनों की मेहनत के बाद स्कूल को पानी के जहाज के जैसा रूप दिया जा सका। अब इस स्कूल के डिजाइन की चर्चा चारों ओर हो रही हैं। वहीं इस स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे अपने स्कूल के नए रूप से काफी प्रसन्न है।

प्रधानाचार्य को पसन्द आया मॉडल : शिक्षा अभियान के इंजीनियर राजेश लवानिया का प्रस्ताव प्रधानाचार्य को पसन्द आया और कई माह की मेहनत के बाद एजूकेशन क्रूज बन सका। लवानिया ने पूर्व प्रधानाचार्य डॉ कोमल कान्त शर्मा के सहयोग से प्लान और मॉडल को फाइनल रूप दिया और क्रूज का निर्माण कराकर स्कूल को आकर्षक और चाइल्ड फ्रेंडली बनाया जिससे यहां के बच्चे रोमांचित हैं और ग्रामवासी भी खुश हैं।

Cruise Shaped Government School Alwar
Cruise Shaped Government School Alwar: क्रूज के आगे के भाग में डॉल्फिन मछली का चित्र थ्री- डी का अहसास देता है।

ग्रामीणों ने भी दिए 2 लाख रुपए: प्रधानाचार्य बनबारी लाल जाट ने बताया कि विद्यालय कक्षा 6 से 12 तक संचालित है और 400 बच्चे पढ़ते हैं। पूरे स्कूल को मॉडल का रूप दिया गया है जिसमें छात्रों के शौचालय को भी स्वच्छता वाहिनी का रूप दिया गया है। सहगल फाउंडेशन के अधिकारी महिपाल सिंह ने बताया कि विद्यालय के रिनोवेशन और सौंदर्यकरण में 40 लाख रुपए से अधिक लगे हैं। इसमें ग्रामीणों ने भी 2 लाख रुपए की राशि का सहयोग किया है।

अलवर जिला मुख्यालय से 22 किमी दूर उमरैण पंचायत समिति के हल्दीना ग्राम पंचायत के उच्च माध्यमिक विद्यालय हल्दीना को सहगल फाउंडेशन ने गोद लेकर स्कूल की तस्वीर बदल दी। यह विद्यालय अलवर की मत्स्य यूनिवर्सिटी से 2 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

 55 इंच की एलईडी लगी है: क्रूज के शेप में दो कक्ष बनाए गए हैं जिसका नाम एजूकेशन क्रूज दिया गया है। इस क्रूज में ग्राउंड फ्लोर पर स्मार्ट क्लास रूम है जिसमें 40 बच्चों के बैठने के लिए फर्नीचर है और सामने की दीवार पर 55 इंच की एलईडी लगी है जिसमें कक्षा 6 से 12 के बच्चे बदलते हुए कालांशों में इंटरनेट के माध्यम से पढ़ाई करते हैं। पहली मंजिल पर एक्टिविटी रूम में अपनी कल्पनाओं को साकार करने के लिए ड्राइंग आदि बनाते हैं।

बाहर से देखने पर क्रूज बहुमंजिला दिखाई देता है। इसके डेक पर खड़े छात्र रोमांचित होते है और महसूस करते हैं कि हम पानी के जहाज में खड़े हैं।

क्रूज के आगे के भाग में डॉल्फिन मछली का चित्र थ्री- डी का अहसास देता है। क्रूज के पिछले भाग में मुख्य द्वार है। आगे और पीछे स्टील रेलिंग लगी है, दूसरी ओर प्रथम मंजिल पर एक्टिविटी रूम में जाने के लिए सीढिय़ां बनी हुई हैं। एजूकेशन क्रूज और स्वच्छता वाहिनी को दूर -दूर से लोग देखने आते हैं और सेल्फी लेते हैं।

अलवर ब्यूरो

अलवर ब्यूरो