Kotkasim Airport: जमीन के दाम घटने लगे, लोग कहने लगे नहीं बनेगा एयरपोर्ट

Kotkasim Airport: जमीन के दाम घटने लगे, लोग कहने लगे नहीं बनेगा एयरपोर्ट

Kotkasim Airport: करीब 10 वर्षों से जिले में Kotkasim airport की चर्चाएं हैं। लेकिन यह कागजों से जमीन पर कब बनेगा यह कहना मुश्किल होगा। हालांकि केंन्द्र सरकार ने इसकी मंजूरी दे दी है। इस पूरे प्रोजेक्ट पर 10,669 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है। इससे पहले यहां कार्गों एयरपोर्ट बनाने का प्रस्ताव था लेकिन सरकार ने इसे ग्रीनफिल्ड इंटरनेशनल एयरपोर्ट के रूप में विकसित करने की मंजूरी दे दी है।

इस साल के शुरूआत में ही मंजूरी मिलने के बाद से केंद्रीय एवं राज्य सरकार की टीमों को कोटकासिम का दौरा करना था लेकिन कोरोना और लॉकडाउन के दौरा नहीं हो सका। और अब सरकार कोरोना से निपटने के लिए काम कर रही है। कोरोना की तीसरी लहर से मुकाबले के लिए सरकार काम में लगी है।  अब उम्मीदें है कि कोरोना खत्म होने के बाद केंद्रीय टीम यहां का दौरा करेगी।

Image result for airport

आपको बता दें इससे पहले केंद्र सरकार की टीमें यहां का दौरा कर चुकी है। पहले कोटकासिम एयरपोर्ट की डीपीआर बनाई जा चुकी थी लेकिन जेवर में एयरपोर्ट की घोषणा के बाद कोटकासिम एयरपोर्ट का मामला ठंडे बस्ते में चला गया था।

Kotkasim Airport: क्या इस साल कोटकासिम में बनेगा एयरपोर्ट!

साल 2020 में राज्य सरकार की तरफ से यहां पर हवाई पट्‌टी भी बनाने का प्रस्ताव दिया गया था जिसको लेकर भाजपा नेताओं ने विरोध भी जताना शुरू कर दिया था। इस मामले को लेकर भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने केंद्रीय मंत्री से मुलाकात करते एयरपोर्ट का मुद्दा उठाते हुए यूपी की बजाय राजस्थान में बनाने की मांग की थी। इस पर अब केंद्र सरकार ने कोटकासिम के लिए भी ग्रीनफील्ड इंटरनेशनल एयरपोर्ट को मंजूरी दी थी। साथ ही राज्य सरकार की तरफ से भी इस पर सैद्धांतिक सहमति दे दी गई थी।

Related image

इस एयरपोर्ट के लिए 14 गांवों की लगभग 2058 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण किसानों की सहमति के आधार पर किया जाएगा। जमीन अधिग्रहण के बाद चार फेज में इसका काम पूरा होगा जिस पर 10669 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इसमें 7 गांव कोटकासिम तहसील के हैं जबकि 7 गांव तिजारा तहसील के हैं।

LALIT YADAV

ललित यादव  'The Alwar News' से जुड़े हैं। ऑनलाइन पत्रकारिता में काम करने का पांच वर्ष का अनुभव है। दिल्ली के कई मीडिया संस्थान में काम कर चुके हैं।
Shares