Kotkasim: गौशाला के नाम पर चंदा लेने वाले तीन पकड़े, लगाया 50 हजार का जुर्माना

Kotkasim: गौशाला के नाम पर चंदा लेने वाले तीन पकड़े, लगाया 50 हजार का जुर्माना

Kotkasim: फ्रॉड के नए-नए तरीकों से रोजाना हजारों लोगों को ठगा जा रहा है। डिजिटल फ्रॉड आज आम बात बन गई है। कोई मोबाइल पर फोन कर कहता है कि आप करोड़पति बने हैं तो कोई कहता है आपको केसबैक मिल रहा है। लेकिन बदमाशों ने ऑफलाइन फ्रॉड के तरीके भी बदल दिए हैं। अब किसी मंदिर, गाय के नाम पर चंदा लेकर कमाई कर रहे हैं। किस तरीके से लोगों से पैसा ऐंठा जा रहा है, उसका उदाहरण है यह मामला।

कोटकासिम क्षेत्र के बैरावास खुर्द गांव में गुरुवार को तीन लोग गौशाला के लिए चंदा ले रहे थे। जब गांव के कुछ लोगों को उन पर शक हुआ तो उनसे पूछताछ की । बात की तह तक पहुंचने के बाद पता चला कि यह लोग चंदे के पैसे से अपनी कमाई कर रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक पकड़े गए तीन लोग खुद को बाबा भर्तृहरि के भक्त बता रहे थे और अलवर गौशाला के लिए चंदा एकत्रित कर रहे थे। तीनों लोग इस काम को कई वर्षों से कर रहे थे। पूछताछ में बताया कि वह कई वर्षों से यह काम कर रहे हैं। जिससे वह अपना घर चलाते हैं। यह तीनों अलवर जिले के खेडली के रहने वाले हैं। मामले को ग्रामीणों ने अपने स्तर पर सुलझा लिया है। ग्रामीणों ने तीनों बदमाशों को सजा के तौर पर 51 हजार रुपए का जुर्माना लगाया। और यह पैसा तिजारा मोनी बाबा गौशाला को दान कर दिया।

Alwar Desk

Shares